होम Breaking News PM CARES फंड की मदद से दिल्ली में लगाए जाएंगे 8 ऑक्सीजन...

PM CARES फंड की मदद से दिल्ली में लगाए जाएंगे 8 ऑक्सीजन प्लांट

13
0

कोरोना के कहर से जूझती दिल्ली, PM CARES फंड की मदद से लगाए जाएंगे आठ ऑक्सीजन प्लांट

देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए PM CARES फंड के समर्थन से दिल्ली में आठ प्रेशर स्विंग एडजोर्पशन (PSA) ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित किए जाएंगे।

देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए PM CARES फंड के समर्थन से दिल्ली में आठ प्रेशर स्विंग एडजोर्पशन (PSA) ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित किए जाएंगे। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के कारण ऑक्सीजन की आपूर्ति की कमी के बीच, दिल्ली की चिकित्सा ऑक्सीजन क्षमता को बढ़ाने के लिए सरकार ने ये फैसला लिया है। ये प्लांट 14.4 मीट्रिक टन से मेडिकल ऑक्सीजन की क्षमता बढ़ाएंगे।

आठ PSA प्लांट में से एक कौशिक एनक्लेव में दिल्ली के बुरारी अस्पताल में 17 मार्च को पहले से ही स्थापित किया जा चुका है। चार प्लांट के 30 अप्रैल तक पूरा होने की उम्मीद है जिसमें दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, लोक नायक अस्पताल, रोहिणी के बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल और अशोक विहार के दीप चंद बंधु अस्पताल में एक-एक लगाया जाएगा

सूत्रों के अनुसार, पिछले साल नवंबर से साप्ताहिक समीक्षा के बावजूद, दिल्ली सरकार ने साइट तैयार करने में देरी की है। अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली सरकार ने दक्षिणपुरी के अंबेडकर नगर अस्पताल के लिए साइट को 19 अप्रैल को तैयार किया था।

सरकार ने 551 ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए धन आवंटित किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भारत में ऑक्सीजन संकट को रोकने के लिए पीएम केयर्स के माध्यम से देश भर में सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधाओं में 551 PSA ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट स्थापित करने के लिए धन आवंटित किया है।

ऑक्सीजन की कमी से जूझती दिल्ली 

गौरतलब है कि राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की कमी के कारण अस्पतालों के बाहर कोरोना वायरस के हजारों मरीज रोजाना दम तोड़ रहे हैं। मरीजों का इलाज करने वाले कई अस्पतालों ने कहा कि ‘उनके पास कुछ घंटे का ऑक्सीजन बचा है’।  चिकित्सा ऑक्सीजन की भारी कमी का सामना करते हुए, सीएम केजरीवाल ने सभी मुख्यमंत्रियों से मदद मांगी है।

केजरीवाल ने पीएम मोदी से भी दिल्ली में अधिक ऑक्सीजन की आपूर्ति करने का अनुरोध किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि ‘केंद्र उसकी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त मात्रा में नहीं भेज रहा है’। AAP सरकार ने दावा किया है कि ‘480 मीट्रिक टन आवंटित होने के बावजूद, उसे केंद्र से केवल 330-380 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुई है’। उसने यह भी शिकायत की है कि ‘वह ऑक्सीजन के परिवहन के लिए टैंकरों की व्यवस्था करने में भी असमर्थ है’
पिछला लेखऑस्कर 2021: सुशांत सिंह राजपूत, इरफान खान, और भानु अथैया को अकादमी के मेमोरियम सेगमेंट में श्रद्धांजलि दी
अगला लेखकर्नाटक में कल यानी मंगलवार रात से 14 दिनों के लिए राज्य में लॉकडाउन की घोषणा
Pratah Kiran is Delhi & Bihar's Rising Hindi News Paper & Channel. Pratah Kiran News channel covers latest news in Politics, Entertainment, Bollywood, Business and Sports etc.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें