होम Uncategorized जेपी नड्डा का दावा- बंगाल में TMC की जीत के बाद 80...

जेपी नड्डा का दावा- बंगाल में TMC की जीत के बाद 80 हजार से 1 लाख लोग हमले के डर से घर छोड़कर भागे

15
0

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि महिलाओं का उत्पीड़न और उसके साथ रेप हुआ है, लूट की घटनाएं भी हुई हैं.

ब्रिटिश राज के समय भी खून बहा था और बंगाल खून से सना था और 2 को भी ऐसी घटना देखने को मिली है.

पश्चिम बंगाल में 2 मई के आए विधानसभा चुनाव के नतीजे के बाद राज्य में जो हिंसा हुई उसके चलते हजारों लोगों को अपनी जान बचाने के लिए दूसरे राज्यों में शरण लेनी पड़ी. ये दावा बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का. उन्होंने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि वे ऐसे ही इसे भारत के बंटवारे के दिनों की याद नहीं बता रहे हैं, क्योंकि करीब 80 हजार से लेकर 1 लाख लोग डर के मारे अपने घर द्वार छोड़ चले गए.

डर के मारे एक लाख लोगों ने छोड़ा घर

जेपी नड्डा ने कहा कि संदेशखली, तोशाबा, ईस्ट केनिंग में कई गावों को लूट लिया गया. लोगों को जान बचाकर वहां से भागना पड़ा है. लोगों ने कूचबिहार और अन्य जगहों से सीमावर्ती राज्य असम में जाकर जान बचाई है. उन्होंने कहा कि ईस्ट केनिग में पिछले साल अम्फान त्रासदी झेलनी पड़ी और इस साल ममता की त्रासदी झेलनी पड़ी. 2 तारीख के बाद जो घटना घटी है, उसमें मानवता हार गई है. नड्डा ने कहा कि वे इसे विभाजन के दिन ऐसे ही नहीं कह रहे हैं, बल्कि वे इस घटना से हैरान हैं.

ममता ने जो नंदीग्राम में कहा था वो 2 मई को हुआ

जेपी नड्डा ने आगे कहा कि बहुत ही निर्दयता से हत्या की गई है बंगाल की जनता और बंगाल के लोगों की, इसकी वह कड़ी आलोचना करता हैं. उन्होंने कहा कि हम बंगाल की जनता के साथ खड़े हैं और जिनके साथ इस तरह की घटना घटी है. उन्होंने कहा कि मुझे इन घटनाओं को देखकर मुझे विभाजन के समय की याद आ गई है. 16 अगस्त 1946 को सीधा हमला भी याद है, डायरेक्ट एक्शन डे. 2 मई की दोपहर के बाद जो घटना घटी है, वह नंदीग्राम में जो ममता बनर्जी ने कहा था वह 2 मई बन गया. क्योंकि ममता ने कहा था खेला होबे.

ममता की चुप्पी से संलिप्तता जाहिर

जेपी नड्डा ने कहा- जिस तरह से ममता जी पूरे 36 घंटे तक चुप रही, एक्टिंग केयर टेकर सीएम चुप रही, यह बताता है कि उनकी संलिप्तता रही. उनके तीसरे टर्म की शुरुआत हाथ में लगे खून के साथ हुई है. टीएमसी वर्कर्स ने बीजेपी के ग्राउंड पर काम करने वाले कार्यकर्ताओं पर हमले किया है, उनके परिवारों पर हमला किया है. खासकर महिलाओं को निशाना बनाया गया है.

महिलाओं का उत्पीड़न और रेप हुआ

बीजेपी अध्यक्ष ने आगे कहा कि महिलाओं का उत्पीड़न और उसके साथ रेप हुआ है, लूट की घटनाएं भी हुई हैं. ब्रिटिश राज के समय भी खून बहा था और बंगाल खून से सना था और आज 2 मई को भी ऐसी घटना देखने को मिली है. जेपी नड्डा ने कहा कि बीजेपी हर कार्यकर्ता के साथ खड़ी है, और यह लड़ाई बंगाल की जनता के लिए निर्णायक मोड़ तक लड़ाई लड़ेंगे. यहां के विषय को एड्रेस करेंगे और हर व्यक्ति जो बंगाल में रह रहा है वो इज्जत के साथ रहे, वो निर्णय होकर जीवन यापन करे यह बीजेपी का लक्ष्य है, उसको हम पूरा करेंगे. हमारी राजनीति ऐसी हो गई जो रंग देखकर काम करती है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें